बॉस ने चोदा मेरी माँ को

हैल्लो दोस्तों.. मेरा नाम सुमित है और में इंदौर का रहने वाला हूँ. मेरी उम्र 23 साल है. दोस्तों आप ही की तरह में भी पिछले दो साल से सेक्सी कहानियो बहुत बड़ा फेन हूँ और मैंने इस पर बहुत सारी सेक्सी कहानियाँ पढ़ी और वो मुझे बहुत अच्छी लगी और एक दिन मैंने भी अपनी एक सच्ची कहानी इस पर आप सभी के सामने लाने का विचार किया.. दोस्तों मेरी फेमिली में.. में और मेरी माँ ही है क्योंकि मेरे पापा की म्रत्यु आज से 5 साल पहले ही एक सड़क हादसे में हो चुकी है. मेरी माँ का नाम दिव्या है.. उनकी उम्र 40 साल है और वो एक प्राईवेट कम्पनी में नौकरी करती है. मेरी माँ का फिगर बहुत ही हॉट है.. उनके फिगर का साईज़ 34-30-36 है और उनके बूब्स बहुत बड़े जोश भर देने वाले है और उनके कूल्हे बहुत फूले हुए और बाहर की और निकले हुए है. मेरी माँ हमेशा साड़ी पहनती है और उनका रंग गौरा है वो दिखने में एकदम मस्त है और उनको देखकर किसी भी मर्द का लंड खड़ा हो जाएगा.

दोस्तों यह घटना कुछ महीने पहले की है.. मेरी माँ के बॉस का नाम सुशील है और उनकी उम्र 56 साल है. फिर एक दिन माँ ने घर पर अपने बॉस को रात के खाने पर बुलाया था और उस रात मौसम बहुत ज्यादा खराब होने की वजह से माँ ने बॉस को घर पर ही रोक लिया और उनसे बोला कि आप कल सुबह चले जाना. फिर हम लोग खाना खाकर सोने चले गये और माँ भी अपने रूम में सोने चली गई. हमारा घर दो मंजिल का है और फिर रात को में जब पानी पीने के लिए उठा तो मैंने अपने रूम की खिड़की से देखा कि माँ के रूम का दरवाजा थोड़ा सा खुला हुआ है और नीचे की मंजिल पर लाईट भी जल रही थी. फिर में धीरे से बाहर आया और खिड़की से नीचे देखा तो मेरी माँ मेक्सी पहनकर बॉस के साथ बैठी थी और बॉस माँ के होंठो चूस रहे थे. फिर मैंने देखा कि बॉस पूरे नंगे थे.. उनका लगभग 5 इंच का लंड तना हुआ खड़ा था और माँ ने एक हाथ से उसे पकड़ा हुआ था और उसे धीरे धीरे सहला रही थी. दोस्तों में यह सब देखकर बहुत चकित हुआ और मुझे अपनी आखों पर बिल्कुल भी विश्वास नहीं हुआ और मुझे उन दोनों पर बहुत गुस्सा आने लगा.. लेकिन ना जाने क्यों में चुपचाप वहीं पर खड़ा होकर यह सब देखने लगा.

फिर माँ नीचे घुटनों पर बैठ गई और बॉस का तना हुआ लंड पकड़ कर चूसने लगी.. बॉस माँ के बालों को पकड़ कर खींच रहे थे. फिर धीरे धीरे मुझे यह सब देखकर बहुत अच्छा लगने लगा और मजा भी आने लगा था. माँ बॉस का लंड बहुत मज़े से चूस रही थी.. तभी थोड़ी देर चूसने के बाद बॉस के लंड से उनका वीर्य निकल गया और माँ ने सारा रस पी लिया. फिर बॉस ने माँ को खड़ा किया और उनके पीछे खड़े होकर उनके दोनों बूब्स को ज़ोर ज़ोर से दबाने लगे. तो माँ आआहह सीईईई उफ्फ्फ कर रही थी और माँ ने अपनी मेक्सी को निकाल दिया तो माँ का बदन रोशनी में दूध की तरह सफेदी से चमक रहा था और माँ ने लाल, सफेद कलर की ब्रा पहनी हुई थी और सफेद कलर की पेंटी पहनी हुई थी और उस ब्रा में से उनके बूब्स बाहर निकल रहे थे. तो बॉस माँ के बूब्स को चूम और चाट रहे थे और माँ सिसकियाँ ले रही थी..

फिर बॉस ने माँ की पेंटी में हाथ डाल दिया और माँ की चूत को सहलाने मसलने लगे.. माँ सईईईइ आहह कर रही थी. तभी थोड़ी देर बाद माँ ने अपनी ब्रा को उतार दिया और माँ के बूब्स खुलकर सामने आ गये. तो बॉस ने माँ के बूब्स को मुहं में लेकर चूसना शुरू कर दिया और थोड़ी देर बाद बॉस ने माँ को सोफे पर लेटा दिया.. बॉस उनके ऊपर चड़ गये और उनके बूब्स को काट रहे थे. तो माँ सिसकियाँ ले रही थी बॉस ने माँ के दोनों बूब्स को काट काटकर लाल कर दिया था. तभी थोड़ी देर बाद बॉस ने माँ की पेंटी उतारी तो माँ की बिना बालों की चूत दिखने लगी.. माँ की चूत बिल्कुल साफ दिख रही थी उस पर एक भी बाल नहीं था. फिर माँ ने अपने दोनों पैर फैला दिए और बॉस ने माँ की चूत को चूमना शुरू कर दिया और बॉस कह रहे थे कि दिव्या तेरी चूत में बहुत आग है.. में इसे आज अपने लंड से ठंडा करूँगा. तो माँ बोली कि सर प्लीज इसे चूसो.. यह बहुत प्यासी है और माँ ने बॉस के सर को पकड़कर उसको अपनी चूत से बिल्कुल सटा लिया था और बॉस ने उसे ज़ोर ज़ोर से चूसना शुरू किया और उनकी आवाज़ मुझे साफ साफ सुनाई दे रही थी. माँ अहह उहह हाँ और ज़ोर से चूसो इसे हाँ और ज़ोर से कह रही थी.

तभी थोड़ी देर बाद माँ और तेज़ तेज़ आवाज़े निकालने लगी और फिर कुछ ही देर में माँ झड़ गई. तो बॉस ने सारा रस पी लिया और माँ सोफे पर झुक गई बॉस नीचे बैठकर माँ की चूत को चाटने लगे और माँ एक बार फिर से सिसकियाँ ले रहे थी. तो बॉस उनके कूल्हों पर भी अपनी जीभ को गोल गोल घुमा रहे थे.. उसके बाद बॉस ने माँ की गांड पर थोड़ा सा थूक लगाया और अपना 6 इंच का लंड माँ की गांड पर रखा तो माँ बोली कि सर प्लीज़ थोड़ा धीरे धीरे से करना. फिर बॉस ने अपना लंड माँ की गांड में धीरे से धक्का मारकर अंदर डाला.. तो माँ एकदम दर्द से तड़पने लगी और कहने लगी कि बॉस प्लीज़ धीरे धीरे करो मेरी गांड में बहुत दर्द हो रहा है. तो बॉस ने कहा कि दिव्या मेरी जान तुम्हे थोड़ी देर दर्द होगा.. इसे बर्दाश्त करो और थोड़ी देर के बाद तुम्हे भी चुदाई का मज़ा आएगा.

तो माँ बोली कि सर मुझे तो यह लगता है कि आज आप तो मेरी जान ही ले लेंगे. फिर सर ने धीरे धीरे अपने लंड को आगे पीछे करना शुरू किया और अब माँ को भी मज़ा आने लगा और माँ भी अपने कूल्हों को उठाकर बॉस का पूरा पूरा साथ देने लगी. बॉस ने माँ के दोनों बूब्स को पीछे से पकड़ रखा था और ज़ोर ज़ोर से दबा रहे थे.. मसल रहे थे और माँ अह्ह्ह उउईईई उफ्फ्फ आईईइ जैसी आवाज़ निकाल रही थी और बॉस माँ की गांड को चोदे जा रहे थे. फिर यह सब देखकर मेरा लंड भी तनकर खड़ा हो गया. मुझे उनकी ताबड़तोड़ चुदाई अच्छी लगने लगी और मैंने भी अपना लंड सहलाना शुरू कर दिया. तभी थोड़ी देर बाद बॉस ने माँ की गांड में अपना सारा वीर्य छोड़ दिया और माँ उसी तरह थककर पड़ी रही और बॉस भी माँ को अपने शरीर से चिपकाकर पड़े रहे.

फिर माँ उठी और एक कपड़ा लेकर आई और उससे अपनी गांड को और शरीर को साफ किया और बॉस का लंड और शरीर को भी साफ किया. तभी थोड़ी देर बाद दोनों उठे और बेड पर बैठ गये.. माँ ने फिर बॉस के लंड को हाथ में लिया और सहलाना शुरू किया और बॉस माँ के बूब्स को दोनों हाथों से पकड़कर दबा रहे थे. माँ और बॉस दोनों ही सेक्सी आवाजे निकाल रहे थे.. फिर बॉस ने माँ को सोफे पर लेटा दिया और उनके दोनों पैरों को ऊपर उठा दिया जिससे उनकी चूत बिल्कुल साफ साफ दिखने लगी और बॉस ने माँ की चूत पर अपने लंड की टोपी रखकर एक ज़ोर का धक्का मारा तो माँ की चीख निकल गई.

माँ उऊहह आहह जैसी आवाज़ करने लगी और बॉस माँ को धीरे धीरे धक्के देकर चोदने लगे और माँ बहुत मज़े से चुदवा रही थी. फिर थोड़ी देर बाद बॉस सोफे पर लेट गये और माँ उनके ऊपर बैठ गई और अपनी चूत को उनके लंड पर रखकर खुद ही अपनी चूत की चुदाई करने लगी. माँ अब बहुत सेक्सी लग रही थी और थोड़ी देर के बाद माँ झड़ गई और बॉस भी झड़ गये.. लेकिन इस चुदाई से मेरी माँ बहुत खुश लग रही थी. फिर माँ ने बॉस के लंड को चाटकर पूरा साफ कर दिया और उनका वीर्य पी लिया और उसके बाद माँ ने अपनी चूत को बॉस से चटवाकर साफ करवाया.. माँ और बॉस उठकर अपने अपने रूम में चले गये और फिर में भी अपने रूम में चला गया. बॉस ने सुबह जाते समय माँ को बोला कि में अब अगले रविवार को फिर आऊंगा.. लेकिन उनके जाने के बाद भी में पिछली चुदाई के बारे में सोचता रहा और मुझे कई रातों तक नींद नहीं आई और वो चुदाई आज भी मेरा पीछा नहीं छोड़ती ..


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


didi ki choot maarikamla ki chudai storymama bhanjiसेक्स स्टोरी बहन चुड़ै रूपएsexy bua ki chudaifree hindi sexy storygandi kahani hindi meinindian desi sex kahaniheroine chutKamvali bae chupkese sex kiyareal sex story in hindi languagemummy ko patani ka pyar diya hindi sex kahani part2 freechudai ke kahani comantarvasna hindi mechachi chudai hindi storywww bhabhi ki chudai kahanixxx hot kahanirahul ki gand marihindi sexy stroieshindi chudai kahani in hindiindian aunty chudai kahanibua ki betihindi sey storynew sxey storyes hindi baba n bhoot .comnaukrani ki chudaiBhab.ke.gand.mare.rajay.ma.vid.photu.kamukta.comhotsxy stroies in hindibalatkar sex storyhindi saxi kahniMai aur meri pyari didi stories all bhagsex history in hindidhoban ki chudaisexistorihindinew chudai story with photochudai ki khaniyan in hindiब्रा पहेन कर चोदाईchudai ki kahani sunoraj sharma kahanibhai ki chudai ki kahaniantravasna majburisunsaan jagah par mummy ki chudai indian sex downloadma aur beti ki chudaichot m landland chut ki kahani in hindikamkrida srxjija sexantarvasna free storyantarvasna latest hindi storysex stories in hindi punjabiSex mrathi khaniचेदी!चद!1xxxhindi me chudai ki storyshemal ka lund utata hai kaysexy chodaiMastram hindi sex storuesMaa ko chut me muth marter beti ne dekha hindi mekamukta पति की गैरमौजूदगी में जवान लडके से चुदाईchachi k chodawww antarvasna sex stories comgf ki chut marichoot ki khaniyachachi ki gand marihindi best chudai storypapa ne ki chudaiantarvashna hindi sex storyindian ladkiyo ki chutaunty kathashipra di aur priti di ji sexy khaniyamastram chudai hindimaa ki chudai ki kahani in hindistory of antervasna