चुदाई के खेल में लड़की ने अपनी चूत की बाज़ी लगा दी

Chudai ke khel me ladki ne apni chut ki baaji lga di:

हेलो दोस्तों मेरा नाम राजेश सिंह है और मैं महाराष्ट्र के पुणे शहर में रहता हूं और एक ड्राइंग आर्टिस्ट हूँ । और मेरी फैमिली में 5 लोग रहते हैं । मैं मेरा बड़ा भाई, मेरी बहन , और मेरे मम्मी-पापा और आगे आपको जो मैं अपनी सेक्स स्टोरी सुनाने जा रहा हूँ वह आज से करीब करीब 1 साल पहले की स्टोरी है जब मैं मुंबई में किराए के एक रूम में रहता था मैं वहां अपनी एजुकेशन कंप्लीट कर रहा था और पार्ट टाइम जॉब भी किया करता था | अपने रोज के खर्चे निकालने के लिए मैं वहां एक इलेक्ट्रिशियन की जॉब करता था । अब मैं आपको अपनी कहानी सुनाता हूं ।

मैं जो जॉब किया करता था उसमें मुझे लोगों के घर-घर जाकर उनके बिजली से संबंधित कोई भी चीजें सुधारने के लिए कॉल आते थे और मुझे वह सुधारने के उनके घर जाना पड़ता था । और एक दिन मैं एक कस्टमर के  घर गया वहां पर इलेक्ट्रिसिटी नहीं आ रही थी तो मैं उसको ठीक करने के लिए गया और घर पहुंचने के बाद मैं अपना काम कर ही रहा था कि मेरी नज़र एक लड़की पर पड़ी जो कि उसी घर पर रहती थी वो बहुत अच्छी लग रही थी । उसे देखते ही मुझे उससे प्यार सा हो गया । मैं उसे देख रहा था और वह भी मुझे कई बार पलट पलट कर देख रही थी और मैं उससे बात करना चाहता था पर इतने लोगों के बीच मुझे उससे बात करने का कोई भी मौका नहीं मिल पा रहा था । पर मैंने भी अपने दिमाग का इस्तेमाल करते हुए जाते जाते अपनी एक चीज उसके घर पर छोड़कर चला गया ताकि मुझे अगली बार उसके घर जाने का बहाना मिल जाए ।

उसके बाद में 2 दिन तक उसके घर के आस-पास चक्कर काटता रहा पता करने के लिए कि वह लड़की कौन थी और उसके घर पर कौन-कौन रहता है | मैंने एक दो बार वहां पे  जो  लोग रहते हैं और वहां जो  बच्चे खेलते हैं मोहल्ले मैंने उन लोग के बारे में पता किया तो तो मुझे पता लगा कि उसके घर में टोटल 4 लोग रहते हैं और उस  लड़की का  नाम ख़ुशी  था और उसके मम्मी पापा और उसका एक छोटा भाई नौवीं कक्षा में पढ़ता था | तब मुझे पता लग चुका था कि उसके घर में कौन-कौन रहता था उसके पापा जॉब करते थे मम्मी उसकी हॉस्पिटल में नर्स की जॉब करती थी और उसका छोटा भाई एक स्कूल में पढ़ता था और वह घर पर दोपहर 12:00 बजे से शाम के 5:00बजे तक अकेले रहती थी।

तीसरे दिन शाम के 4:00 बजे मैं उसके घर गया और दरवाजा खट खटाया तो वह लड़की बाहर आई और बोली हां क्या हुआ मैंने कहा मेरे सामान अंदर छूट गया है | उस दिन मैं तुम्हारे घर इलेक्ट्रिसिटी ठीक करने आया था तो भूल गया था वह बोली हाँ रुको रुको मैं लाकर देती हूँ | फिर उसने मुझे वह सामान ला कर दिया और बोला मैंने कहा  मुझे  पानी पीना है पानी मिलेगा एक गिलास वह बोली हाँ बिल्कुल फिर उसने पानी लाकर दिया मैंने पानी पिया  और मैं वापस चला गया ।

चौथे दिन दोपहर के 3:00 बजे मैं पर उसके घर गया और गेट खटखटाया वह बाहर आई और बोली क्या हुआ मैंने डरते डरते बोला कि मुझे तुमसे प्यार हो गया है | तुम्हें जब पहली बार देखा था तभी मुझे तुमसे प्यार हो गया था क्या तुम मेरी गर्लफ्रेंड बनोगी उसने मुझसे दो तीनसैकेंड तक कुछ नहीं बोला । मैंने उससे पूछा कि क्या हुआ कुछ तो वह बोली मैं तुमसे प्यार नहीं करती मैं तो तुम्हें जानती भी नहीं हूं | तो मैंने कहा अच्छा मेरी फ्रेंड ही बन जाओ अपना नंबर दे दो मुझे वह बोली ऐसे कैसे तुम अपना नंबर दे दूँ  मैने कहा मैं अच्छा लड़का हूँ |

मेरा विश्वास तो करो फिर उसने अपना नंबर दिया मुझे फिर मैं उससे बोला ठीक है मैं तुम्हें फोन लगाऊंगा उठा लेना वह बोली ठीक है उसने मेरा नाम पूछा मैंने कहा मेरा नाम राजेश है और तुम्हारा वह बोली ख़ुशी |  मैंने कहा ठीक है ख़ुशी  फिर मिलते हैं बाय इतना बोल कर मैं वहां से वापस आ गया अब तक वह लड़की लगभग आधी पट  चुकी थी अब शाम को 5:00 बजे मैंने उसको कॉल लगाया उसने फ़ोन उठाया और  बोली हेलो मैंने कहा मैं राजेश बोल रहा हूँ पहचाना | उसने कहा हाँ  फिर मैंने उससे बात की उसने मुझसे पूछा कैसे हो मैंने कहा मैं ठीक हूँ और आप  सुनाओ वो बोली सब ठीक है  बस बैठी हूँ | मैंने कहा मुझे आपसे मिलना है  कब मिल रही हो मुझसे बोली जब टाइम मिलेगा तो बता दूंगी फिर हम लोगों ने कुछ बात की और फिर उसके घर वाले आ गये और उसने फ़ोन काट दिया और फिर हमारी रोज बाते होने लगी |

फिर कुछ दिनों के बाद वह मुझसे मिलने आए हम लोगों ने साथ में कॉफी पी  और कुछ बात की और जाते जाते मैंने उससे बोला ख़ुशी  आई लव यू इस बार उसने भी थोड़ा शर्माते हुए मुझे रिप्लाई दे ही दिया आई लव यू टू  राजेश । मेरी ख़ुशी का तो ठिकाना ही नहीं था और हम लोगों ने खूब बाते की फिर हम अपने अपने घर आ गए |

अब तक मैं उसका विश्वास जीत चुका था वह भी मुझ से बहुत प्यार करने लगी थी  फिर वो मुझे अपने घर बुलाने लगी में भी उससे मिलने हर २ या ३ दिन में उसके घर जाने लगा और हम दोनों को एक दुसरे के साथ टाइम बिताना बहुत अच्छा लगने लगा | फिर उसने मुझे एक दिन मिलने के लिए मुझे अपने घर बुलवाया और हम दोनों एक दूसरे से बातें करने लगे फिर मैंने उससे कहा ख़ुशी हमारे बिच इतना ही चलता रहेगा या कुछ आगे भी बढेगा तो उसने कहा क्या मतलब | तो मैंने कहा में तुम्हे किस करना चाहता हूँ तो वो शर्मा गई और बोली अभी नहीं बाद में तो में |

उसे फ़ोर्स करने लगा तो वो मान गई और कहा किस ही बस और कुछ नहीं करना मैंने कहा ठीक है फिर मैं उसकी तरफ आगे बढ़ा उसने अपनी आखे बंद कर ली और मैंने उसके होंठो में अपने होंठ रख दिए | क्या होंठ थे दोस्तों उसके पिंक कलर के एक दम गर्म और सॉफ्ट में अपने होंठो से उसके होंठ खिंचने और चूसने लगा और उसके होंठो का सारा रस पीने लगा | उसे भी मज़ा आने लगा और वो भी अपने होंठो से मेरे होंठो को खीचने लगी रेगुलर ४० मिनट तक हम दोनों एक दुसरे को किस करते रहे |

फिर एक दुसरे को हम दोनों ने छोड़ दिया और मैंने उससे पूछा की कैसा लगा तो मुस्कुराने लगी और मुझे अपने गले से लगा लिया मैंने भी उसके गले में किस करना स्टार्ट कर दिया और अपने हाँथ उसके बूब्स पर रख दिए | उसने मुझे कुछ नहीं कहा मै समझ गया था की उसे भी मज़ा आ रहा है और मैं उसे फिर से किस करने लगा और आपने हांथो से उसके बूब्स को दबाने लगा |

उसने मेरा बिलकुल भी विरोध नहीं किया बल्कि वो भी मेरे किस का रिप्लाई किये जा रही थी | फिर मैंने उसे लिटाया और उसकी टॉप को हल्का सा उपर उठाया और उसके पेट में किस करने लगा और चाटने लगा और अपने हांथो से उसके बूब्स दबा रहा था | वो भी गरम होने लगी थी फिर मैंने उसे उठाया और उसकी टॉप और लेगी उतर दी ब्रा और पेंटी में वो क्या लग रही थी यार उसने ब्लैक ब्रा और ब्राउन  कालर की   पेंटी पहनी थी और बहुत ही खुबसूरत लग रही थी |

उसके बाद मैंने अपने पूरे कपड़े उतार और उसकी ब्रा और पेंटी भी उतार दी वो क्या बूब्स और चूत थी यार उसकी बूब्स बड़े बड़े और एक दम गोल और चूत पे उसके बाल थे | उन्हें देख कर मेरा लंड पूरी तरह खड़ा हो गया और में उसके निप्पल को चूसने लगा और उसकी चूत में अपनी २ ऊँगली डाल दी और अन्दर बहार करने लगा | वो सिसकियाँ भरने लगी और अआह्ह्ह अआह्ह्ह आआ  ह्ह्ह  अआह्ह्ह करने लगी फिर मैंने अपने लंड को उसकी चूत के छेदे में रख कर उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया | लंड उसकी चूत में घुस गया पर उसे बिलकुल भी दर्द नहीं हुआ फिर में लंड को उसकी चूत में अंदर बाहर करने लगा और वो जोर जोर से सिसकियाँ लेने लगी और अआह्ह्ह आह्ह्ह करने लगी में उसे लगातार चोदे जा रहा था और कभी उसके ढूध दबा रहा था और कभी उसे किस कर रहा था |

वो भी सेक्स के नशे में बिलकुल पागल हो चुकी और चिल्ला रही थी और तेज़ और तेज़ और मैंने भी अपने स्पीड बढ़ा दी और जोर जोर से उसे चोदने लगा वो और तेज़ सिसकियाँ लेने लगी और जोर जोर से आह्ह्ह  आह्ह्ह्ह करने लगी | सारे रूम में हमारी चुदाई की आवाजे गूंजने लगी फिर करीब ४५ मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना सारा माल उसकी चूत में ही छोड़ दिया और मैंने उससे पूछा तुमने पहले भी सेक्स कर चुकी हो न तो उसने कहा हाँ मेरा पहले एक बॉयफ्रेंड था उसने मेरे साथ जबरदस्ती सेक्स किया था इसलिए मैंने उसे छोड़ दिया था | लेकिन उसके बाद से मै सेक्स करने के लिए तड़प रही थी जो आज तुमने  मेरी सेक्स की तमन्ना पूरी  कर दी ……….


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


chudai ki hindi sexy storydehati hotbihari sex storybhai bahan ki chudai comwww mosi ki chudai combhabhi ki chut hindi meristo ma hindi xxx chudi story 2019naukrani chutindian sexy story in hindichudaihijde kehindi sxs storychut chatne ki photorajasthani saxmadhuri ki chutchudai ka ahsas meri jubani desimarvadi saxmaa beta sex kahani hindikahani ki chudaichut chudnagaand chatnaadivasi chudaibhai aur behan ki sexy storybhabhi ne seduce kiyashabana ki chudaichudai special kahaniनई हिंदी दामाद की सेक्सी कहानीmeri mast chudai ki kahaniबिवी की चुडाई दूधवाला से देखीfamily ki chudai ki kahanisexi stori ma beti ka rep holi me chaca ne kiyahot story chudai kisexy chut ki kahani hindiनेपालि मेरा दोसत के बहन को कै से चोदाdevar bhabhi ki chudai kahani hindihindi sexy opensurekha fuckinggaand ki khushboobhabhi ki gand mari sex storygaram choothindi sexy chut storysarita bhabi combhabhiya or unki chudasi saheliyaठंड मे चुत मारा कहानीrani didi ki chudaibhabhi chudai ki kahani hindi mehindi sexy story with photodesi sexsidesi chachi chudaisabse bada boorsavita bhabhis sex storieswww chud ki chudai comHindichutkesechodegalti se chud gaihindi font chudaisuhagrat me gand chudai kahaniteacher aur student ki chudai kahanibhabhi ki chut storydesi gangbang storiessex hindi languagejabardasti chut marinew chudai comchut kaise chateantarvasna bahupari ki chudaimoti gand chutPapa k Sath pati our bhai bhi mughe chodamummy ki chudai photo ke sathnipple chusnachoti si bhool sex kahani all partsrupali ki chutaunty sex stories indiasali ke chodamarwari bhabhi ki chudaixnxx amarikasasur bahu sex kahanimulayam gand ko jibh laga mere muh koschool ki teacher ko chodajija sali hot storybhai behan ki chudai kahani in hindidesi maid ki chudaimastram ki chudai wali kahaniwww antarvasnan com hindiजॉब के लिए बेटी को छुडवाई कहानियाaantiyo Galiya bari gurup desi kamukta.in.comkuwari chut hindinokri malik malkin ki gand marne ki nangi antravasnapooja aunty sexbalatkar chudaidesi bhai bahan sexladke ne gand marifresh chootडीलडो से गुप चुदाई की कहानीgalti se chud gayifatafat chudainonveg sex storypregnant ki chudaimarwadi sxybhai behan hindigay sex kahani in hindiमराठीसेकसिकहानी