मौसी की बेटी को चोदा

Mausi ke beti ko choda:

hindi sex story

हाय दोस्तों कैसे हैं आप सभी ? मैं आशा करता हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम दिनकर जैन है और मैं काठमांडू का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 22 साल है और मैं अभी कुछ भी नहीं करता हूँ | मैं दिखने में सांवला हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 11 इंच है और मेरी फिट बॉडी बताती है कि मेरी पर्सनालिटी कितनी अच्छी है | दोस्तों मैं इस साईट का दैनिक पाठक हूँ और मुझे चुदाई की कहानियां पढ़ना बहुत पसंद है लेकिन कभी मेरे साथ ऐसा कुछ नही हुआ था जो मैं यहाँ पर अपनी कहानी बयां करता | इसलिए आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं उम्मीद करता हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी जरुर पसंद आयगी और मेरी कहानी पढ़ कर आप लोगो को बहुत मजा भी आयगा | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय ना लेते हुए सीधा अपनी कहानी शुरू करता हूँ | ये मेरी पहली कहानी है तो अगर आप लोगो को इस कहने में कुछ गलती नजर आती है तो कृपया मुझे माफ़ कर देना |

ये घटना पिछले साल गर्मी की है | मेरे घर में मैं और मेरी छोटी बहन और मेरे मम्मी पापा रहते हैं | हमारा छोटा सा परिवार बहुत ही खुशनुमा है | हमारे घर में कभी किसी भी बात को लेकर बहस नहीं होती | मेरे पापा प्राइवेट बैंक में मैनेजर हैं और मम्मी हाउसवाइफ हैं | मेरी छोटी बहन अभी स्कूल में पढाई करती है और मेरा कॉलेज ख़त्म हो चुका है | मैं घर में ज्यादातर समय बोर ही होता रहता हूँ तो कभी अपने दोस्तों के घर चला जाता हूँ तो कभी पान के टपरे में खड़ा हो जाता हों | एक दिन की बात है मैं टपरे में अपने दोस्तों के साथ खड़ा हुआ था और तभी पापा का मेरे पास कॉल आया ? पापा ने पूछा बेटा कहाँ हो ? तो मैंने पापा से झूट कह दिया कि पापा मैं अपने दोस्त के साथ हूँ | तो पापा ने कहा फ्री हो कर घर आना कुछ काम है | मैंने ओके कहा और फ़ोन काट दिया | उसके बाद मैं तुरंत ही अपनी बाइक उठाके घर पंहुच गया | मैंने पापा से पूछा हाँ पापा कहिये क्या काम था ? तो पापा ने कहा कि आज मेरी तबियत थोड़ी गड़बड़ सी लग रही है तो तू जा कर मेरी दवा ले आना और तेरी मौसी की बेटी को भी ले आना स्टेशन से | मैंने पूछा कि पापा वो सुप्रिया आ रही है क्या ? तो पापा ने कहा नही बेटा वो आ चुकी है स्टेशन में वेटिंग रूम में है वो | मैंने कहा ठीक है और फिर कार निकाल कर स्टेशन गया सबसे पहले | वहां पर जा कर मैंने उसे फ़ोन किया और पूछा कि कौनसे वाले प्लेटफार्म के वेटिंग रूम में हो ? तो उसने कहा तीसरे वाले प्लेटफार्म पर | उसके बाद मैंने उसे वहां से लिया और फिर दवा बाजार जा कर पापा की दवा ली |

मेरी मौसी की बेटी जिसका नाम सुप्रिया है | वो 19 साल की है और उसकी हाईट लगभग 5 फुट 4 इंच है और उसका फिगर बहुत ही घातक है | वो दिखने में एक दम दूध जैसे गोरी है और उसके दूध किसी बड़े आम जैसे हैं और पतली कमर के साथ उसके चूतड बड़े और गोल हैं | वैसे कहना तो नहीं चाहिए क्यूंकि वो मेरी बहन है लेकिन बिना कहे रुक भी नहीं सकता | वो एक दम काँटा पीस है | हम दोनों रास्ते में बात करते हुए जा रहे थे | उसके बाद जब हम घर पंहुच गए तो मैंने कहा तुम मम्मी पापा से मिल लो तब तक मैं तुम्हारा सामान आरज़ू ( मेरी छोटी बहन ) के कमरे में जमा देता हूँ | उसने कहा ठीक है और वो अन्दर जा कर मिलने लगी सभी से | फिर मैं कार पार्क कर के उसका सामान निकाला और अपनी बहन के कमरे में जमाने लगा था | सामान जमाने के बाद मैं भी नीचे आया और फिर हम सभी बात करने लगे आपस में | कुछ देर ऐसे ही यहाँ वहां की बात चल रही थी फिर दोपहर में हमने खाना खाया और फिर मैं अपने कमरे में चला गया | सुप्रिया आरज़ू के कमरे चली गई | वो दोनों में काफी बात हो रही थी और मैं ये सब अपने कमरे में से सुन रहा था | थोड़ी देर बाद मेरी नींद ही लग गई | शाम को जब मैं सो कर उठा तो सुप्रिया मेरे पास ही बैठी दिखी | मेरे बेड के पास ही में मेरा कंप्यूटर रखा हुआ है तो वो सिस्टम चलाने लगी | ये देख कर मेरी गांड ही फट गई क्यंकि उसमे मैंने कई सारी चुदाई की कहानियां पीडीऍफ़ फाइल डाउनलोड कर के रखी हुई थीं | मैं तुरन्त उठ कर उससे पूछने लगा कि सुप्रिया मेरा कंप्यूटर चालू करने से पहले पूछ तो लेती तो वो मेरी तरफ देख कर हंसने लगी | मैंने पूछा हंस क्यूँ रही हो ? तो उसने कहा तुम ये पोर्न स्टोरीज पढ़ते हो | मैंने कहा हाँ तो उसमे हंसने वाली कौनसी बात है ? तो उसने कहा अरे इससे अच्छा तो ब्लू फिल्म देख लिया कर | मैंने कहा अबे चुप रह कोई सुन लेगा तो कहेंगे कि ये दोनों कैसी बात कर रहे हैं | तो उसने कहा अरे अभी घर में कोई नहीं है | मैंने पूछा कि कहाँ गए हैं सब ? तो उसने कहा अभी सब हॉस्पिटल गए हैं डॉ. के पास | मैं समझ गया कि मम्मी और आरज़ू दोनों गए होंगे पापा के चेकअप के लिए | मैंने उससे पूछा तुम क्यूँ नहीं गयीं ? तो उसने कहा अरे मेरा मन नहीं हुआ | मैंने कहा ओके | फिर हम दोनों में चुदाई को ले कर बात होने लगी |

हम दोनों चुदाई की बात करने में इतना व्यस्त हो गए कि ध्यान ही नहीं रहा कि हम भाई बहन हैं | खैर हम दोनों ही चुदाई की बात करते हुए गरम हो चुके थे और दोनों की ही आँखों में चुदाई की हवस साफ नजर आ रही थी | थोड़ी देर के बाद पापा मम्मी भी आ गए और वो ये बोल कर चली गई कि रात में मुझे छत पर मिलना | शाम के नाश्ते के बाद मैं अपने दोस्तों के पास चला गया और फिर रात में घर आया | उसके बाद रात का खाना खाने के बाद सभी टीवी देख रहे थे और आरज़ू सोने चले गई और मैं और सुप्रिया दोनों छत पर टहलने के लिए गए | मैंने उससे पूछा कि तुमने छत पर मिलने को क्यूँ कहा तो उसने बताया कि वो सेक्स करना चाहती है मेरे साथ | ये बात सुन कर मैं खुश हो गया और कहा कि अभी नीचे चलते हैं जब सब सो जायेंगे तो तुम मेरे कमरे में आ जाना | वो मेरे कमरे में करीब सवा एक बजे आई और आते ही मेरे होंठ में अपने होंठ रख दिए | हम दोनों एक दुसरे को किस करने लगे और हमारी किस्सिंग 10 मिनट तक चली | उसके बाद मैंने उसके टॉप को निकाल दिया और ब्रा भी उतार कर उसके दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा तो उसके मुंह से आहा अआहा ऊनंह ऊमंह आहा ऊनंह ऊमंह ऊनंह ऊउम्म्ह आहाआ ऊंह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | उसके दूध को चूसने के बाद मैंने उसकी लेगी को भी उतार दिया और पेंटी भी | अब वो पूरी नंगी थी और मैंने उसे लेटाया और उसकी चूत को चाटने लगा तो वो आहा अआहा ऊनंह ऊमंह आहा ऊनंह ऊमंह ऊनंह ऊउम्म्ह आहाआ ऊंह करते हुए मचलने लगी |

मैंने उसकी चूत को दस मिनट तक चाटा और उसके बाद मैंने भी अपने कपडे उतार दिए और नंगा हो कर उसके सामने आया तो उसने झट से मेरे लंड को अपने मुंह में ले कर चूसने लगी तो मैं भी आहा अआहा ऊनंह ऊमंह आहा ऊनंह ऊमंह ऊनंह ऊउम्म्ह आहाआ ऊंह करते हुए उसके मुंह की चुदाई करने लगा | वो मेरे लंड को आगे पीछे करते हुए चूस रही थी और मैं आहा अआहा ऊनंह ऊमंह आहा ऊनंह ऊमंह ऊनंह ऊउम्म्ह आहाआ ऊंह करते हुए सिस्कारियां ले रहा था | फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया और चोदने लगा तो वो भी आहा अआहा ऊनंह ऊमंह आहा ऊनंह ऊमंह ऊनंह ऊउम्म्ह आहाआ ऊंह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | मैं उसकी चूत को जोर जोर से शॉट मारते हुए चोद रहा था और वो भी आहा अआहा ऊनंह ऊमंह आहा ऊनंह ऊमंह ऊनंह ऊउम्म्ह आहाआ ऊंह करते हुए अपनी कमर उठा उठा कर चुदाई में साथ दे रही थी | करीब आधे घंटे की चुदाई के बाद मैंने अपना वीर्य उसके दूध पर निकाल दिया | उसके बाद वो रूम में चले गई और मैं कपडे पहन कर सो गया | अब हमे जब भी चुदाई का मौका मिलता है तो चुदाई कर लते हैं |


Comments are closed.



Online porn video at mobile phone


behan ki choot maariantarvasna free hindi sex storiesचलती बस मे सील तोडी पापानेantarvasna beti ke ashiq ka bada lund risto me chudaibhauji ki chodaiwww chodan combaap beti hindi chudai kahanibehan bhai ki kahanisasti chudaibhabhi ki nabhiबिधवा भाभी कि कुआरी चुत jangal me mangal 2017chudai ki kahani savita bhabhisasur bahu ki chudai hindi storyxxx hindy storri meri bivi ki gaand mery dost ne marigaand ki thukaisix khanisex kahani comhindi mein chudai ki kahaniwww chachi ne chudai storysushila bhabhi ki chudaichut ka dard20 साल गांडू लडको का सेकसी कामुकता wwwbhai bahen ki chudai storihot sex kathahindi xximaa ko dost ne chodachudai ki kahani hindi mdesibees hindi storychodne ki kahani with photoxxx chudai ki kahaniJijaji chhat par Lagi ako Jijaji ko mili nahi lagachodam chodigirlfriend ki chudai sex storiesXxx hindi कहानी video KY satmose ki chudaim antervasna combahan ko choda hindi storysaheli ko chodapahli baar chudai videosex vartamaa bete ke chudai ki kahanimast chudai mmsbahan ki chudai in hindi fontdesi nanga nachdesi choot me lundsuhagrat pronantervashnasexstory.comsex stories in hindi to readkuwari chut chudaibhai bhen sex storywww hindi chudai stories comaunty ko choda hindi kahanipunjabi xxx storyhindi saxy khanibhabhi ki mastani chutgaon ki sex kahaniमेने मम्मी को ankal से aor बाकि से भी chudwayachudai story desiwww kamukta com hindididi ki hotel me chudaiantarvasna english storyलड़के के शरीर में ऐसा क्या है जो लड़के के शरीर पर हाथ से फेराते ही लडके का क्या खडा हो जाता हैbeti aur baap ki chudaiindian hindi chudai storyschool me mujhe chodapariwar chudaidhoban ki chudaidevar sali ki chudaiBegani sadi me didi ki chudaiअजनबी लडकी की सील तोडाboor ki chudai comchudai in jangal